Ad Code

Responsive Advertisement

जीवविज्ञान (Biology In Hindi) : जीव-विज्ञान का परिचय (What Is Biology), जैव-विविधता और प्रमुख शाखाएँ

Biology in Hindi बायोलॉजी क्या है इन हिन्दी (What Is Biology)
Biology in Hindi बायोलॉजी क्या है इन हिन्दी (What Is Biology)

 

जीव-विज्ञान क्या है ? 

  • विज्ञान की वह शाखा जिसमें जीवधारियों का अध्ययन किया जाता है जीव-विज्ञान या बायोलॉजी (Biology) कहलाती है |
  • बायोलॉजी शब्द ग्रीक भाषा के दो शब्दों से मिल कर बना है पहला बायोस (Bio) जिसका अर्थ जीवन और दूसरा लोगोस (Logy) जिसका अर्थ अध्ययन होता है |
  • बायोलॉजी शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम लैमार्क और ट्रविरेनस ने किया था |
  • जीव-विज्ञान (Biology) की दो प्रमुख शाखाए जन्तुविज्ञान (Zoology) और वनस्पति विज्ञान (Botany) हैं | 

सजीव क्या होते है? 

जिन वस्तुओं में जीवन हो या उनके अंदर जैविक-क्रियाएं जैसे: श्वसन, पाचन, उत्सर्जन आदि होती हो उन्हें जीवित या सजीव कहा जाता है |

जीवन क्या है ? 

सभी सजीव एक कोशिका से बने होते है इस कोशिका में सारे रसायन एक विशेष संगठन के रूप में है | सजीव के अंदर यही विशेष रासायनिक संगठन कुछ विशेष रासायनिक क्रियाओं को पूर्ण करता है, यही क्रियाएं जैविक क्रियाएँ कहलाती है और यही विशेष रासायनिक संगठन जीवन है |

जीवों के लक्षण : 

हमारी धरती पर सभी वस्तुओं को 3 वर्गों में रखा गया है जो क्रमशः सजीव, निर्जीव और मृत है | सभी वर्गों के जीवों में कुछ समानता होती हैं और कुछ विभिन्तायें होती है, इन्ही के आधार पर इन्हें सजीव, निर्जीव और मृत वर्ग में रखा जाता है |

Biology : जैव-विविधता (Bio-Diversity) क्या है ?

हमारे आस-पास प्रकृति में विभिन्न प्रकार के जीव-जंतु पाए जाते है | सभी जीव-जंतुओं में आकारिकी, व्यव्हार और क्रिया-कलापों के आधार पर कई प्रकार की विभिन्ताएं पायी जाती हैं | हमारी प्रकृति में आज भी कई जीव और पौधे ऐसे है जिनको हम जानते नही है और ना ही उनकी खोज की गयी है | अभी तक लगभग 10 लाख जीव-जन्तु और पौधों को खोज कर उनका नामकरण किया जा चुका है |

ये सभी जीव-जन्तु आकर, आमाप, रूप-रेखा, आंतरिक-संरचना, प्रजनन एवं पर्यावरण के प्रतिकूलान में विभिंता प्रदर्शित करते है | जीवों में पाई जाने वाली इसी विविधता को जीवन की विविधता या जैव-विविधता कहते है |    

बायोलॉजी या जीव-विज्ञान की प्रमुख शाखाएं (Biology in Hindi)

क्र.सं.

विज्ञान की शाखाएँ

अध्ययन विषय

1

एनाटॉमी

मानव-शरीर की संरचना का अध्ययन

2

ऐक्रोबेटिक्स

व्यायाम सम्बन्धी विज्ञान का अध्ययन

3

ऐन्थोलोजी

पुष्प सम्बन्धित विज्ञान का अध्ययन

4

एग्रोनामी

फसली पादपों  का अध्ययन

5

एयरोनॉटिक्स

वायुयान की उड़ान सम्बन्धी विज्ञान का अध्ययन

6

एकोस्टिक्स

यह ध्वनि से सम्बन्धित विज्ञान  का अध्ययन

7

विटीकल्चर

अंगूर की खेती का अध्ययन

8

एस्ट्रोलॉजी

मानव पर ग्रह नक्षत्र के प्रभाव का अध्ययन

9

ऐस्ट्रोनोटिक्स

यह अन्तरिक्ष यानो से सम्बन्धित विज्ञान

10

एस्ट्रोनॉमी

 तारों एवं ग्रहों से संबंधित विषय तथा आकाशीय पिंडों (खगोलीय पिण्डों)का अध्ययन

11

कीमोथेरैपी

रासायनिक यौगिको से कैँसर का उपचार का अध्ययन

12

कोस्मोलोजी

ब्रह्माण्ड के जन्म , विकास और विलोपन का अध्ययन

13

क्रायोजेनिक्स

निम्न ताप पर वस्तुओँ के गुणोँ और अन्य परिघटनाओँ का अध्ययन

14

साइटोलोजी

जीव कोशिका का अध्ययन

15

साइटोजेनेटिक्स

जीव कोशिका और उसकी आनुवंशिक विशेषताओँ का अध्ययन

16

इकोलॉजी

जीव पर्यावरण के बीच पारस्परिक सम्बन्धोँ का अध्ययन

17

ऐण्टोमोलॉजी

कीट पतंगोँ का अध्ययन

18

साइटोलॉजी

जीव कोशिका का अध्ययन

19

इथोलोजी

प्राणियोँ के व्यवहार का अध्ययन

20

एपीग्राफी

शिलालेख सम्बन्धी ज्ञान का अध्ययन

21

फाइकोलॉजी

शैवालोँ का अध्ययन

22

ओप्टिक्स

प्रकाश के प्रकार व गुणोँ का अध्ययन

23

ओरनीथोलॉजी

पक्षियोँ से सम्बन्धित अध्ययन

24

आर्थोपीडिक्स

अस्थि उपचार का अध्ययन

25

ओस्टियोलॉजी

अस्थियोँ का अध्ययन

26

पैडोलॉजी

मिट्टी का अध्ययन

27

पैलियोण्टोलॉजी

जीवाश्मोँ का अध्ययन

28

पैरालॉजी

स्पंजोँ का अध्ययन

29

पैथोलॉजी

रोगोँ की प्रक्रति के कारणउपचार आदि का अध्ययन

30

पोमोलॉजी

फलोँफूलोँ का अध्ययन

31

फिजियोग्राफी

प्राकृतिक भूगोल का अध्ययन

32

साइकोलॉजी

मनोविज्ञान का अध्ययन

33

गायनोकोलॉजी

मादाओं के प्रजनन अंगों का अध्ययन

34

मारफोलॉजी

जीव एवं भौतिक जगत् की आकारिकी का अध्ययन

35

मिनेरालॉजी

खनिजों का अध्ययन

36

जीव विज्ञान (बायलॉजी)

जीवधारियों का शारीरिक अध्ययन

37

डर्मेटोलॉजी

त्वचा एवं संबंधित रोगों का अध्ययन

38

डेन्ड्रोलॉजी

वृक्षों का अध्ययन

39

रेडियोबायोलॉजी

जीव-जंतुओं पर सौर विकिरण का प्रभाव

40

जेम्मोलॉजी

रत्नों का अध्ययन

41

लिम्नोलॉजी

झीलों एवं स्थलीय जल भागों का अध्ययन

42

स्पेस बायलोजी

पृथ्वी से परे आंतरिक में जीवन की सम्भावना का अध्ययन

43

बैक्टीरियोलॉजी

जीवाणुओं से संबंधित विषय का अध्ययन

44

हिस्टोलॉजी

उत्तको का अध्ययन

45

मेमोलॉजी

स्तनधारी जन्तुओँ का अध्ययन

46

माइक्रोबायोलॉजी

सूक्ष्म जीवों का अध्ययन

47

मोलीक्यूलर बायोलॉजी

आणविक स्तर पर जीवोँ की संरचना व कार्योँ का अध्ययन

48

मोर्फोलॉजी

पौधोँ की बाह्य संरचना का अध्ययन

49

मेमोग्राफी

स्त्रियोँ के स्तनोँ की जाँच करने वाली चिकित्सा विज्ञान की शाखा का अध्ययन

50

न्यूमेरोलोजी

अंकोँ का अध्ययन

51

न्यूमिसमैटिक्स

पुराने सिक्कोँ का अध्ययन

52

न्यूरोलोजी

तंत्रिका तंत्र का अध्ययन

53

ओडोण्टोलॉजी

दाँत व मसूङोँ का अध्ययन

 

Post a Comment

0 Comments