Ad Code

Responsive Advertisement

मुहावरे और लोकोक्तियाँ - Muhavare aur Lokoktiyan Hindi Vyakaran Notes In Hindi

 मुहावरे और लोकोक्तियाँ - Muhavare aur Lokoktiyan Hindi Vyakaran Notes In Hindi

मुहावरे : मुहावरे भाषा की सुन्दरता में चार चाँद लगा देते है | भाषा में प्रयोग होने वाले ऐसे वाक्यंस जो अपने साधारण अर्थ को छोड़ कार विशेष अर्थ प्रकट करते है,  मुहावरे कहलाते है |

मुहावरे और लोकोक्तियाँ - Muhavare aur Lokoktiyan Hindi Vyakaran Notes In Hindi


अ वर्ण से बोले जाने वाले 200 से भी अधिक  मुहावरे और लोकोक्तियाँ (Muhavare aur Lokoktiyan In Hindi) नीचे तालिका में दी गयी है |

क्र.

मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ

1

 अपना-सा मुंह लेकर रह जाना

2

 अपनी आदत से बाज न आना

3

 अपनी इज्जत अपने हाथ

4

 अपनी ओर देखना

5

 अपनी कब्र खुद खोदना

6

 अपनी खाल में मस्त रहना

7

 अपनी खिचड़ी अलग पकाना

8

 अपनी गली में कुत्ता भी भोर होता है

9

 अपनी चादर के बाहर पैर फैलाना

10

 अपनी छाछ को भला कौन खट्टा कहता है

11

 अपनी तकदीर आप बनती है

12

 अपनी नाक कटवाना

13

 अपनी नाक कटाकर दूसरों का असगुन चाहना

14

 अपनी नाव खुद खेना

15

 अपनी नींद सोना

16

 अपनी नींद सोना और अपनी नींद जगना

17

 अपनी बात का एक

18

 अपनी बात का धनी

19

 अपनी बात पर आना

20

 अपनी बीती सुनाना

21

 अपनी मां का दूध पिए होना

22

 अपनी रामकहानी सुनाना

23

 अपनी लगाई आग में आप जल जाना

24

 अपनी हांकना

25

 अपनी-अपनी ढपली, अपना-अपना राग

26

 अपनी-अपनी पड़ना

27

 अपनी-अपनी पड़ना

28

 अपने आपको अफलातून का नाती समझना

29

 अपने आपको लाट साहब का साला मानना

30

 अपने काम से काम

31

 अपने काम से काम रखना

32

 अपने किए का फल पाना

33

 अपने दही को कोई खट्टा नहीं कहता

34

 अपने दिन भूल जाना

35

 अपने दिनों को रोना

36

 अपने दोष न देखे, दूसरे के गिने

37

 अपने पर पड़ जाए तो आदमी भोर हो जाता है

38

 अपने पाँव पर आप कुल्हाड़ी मारना

39

 अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारना

40

 अपने पैरों पर खड़ा होना

41

 अपने मुँह मियाँ मिट्ठू

42

 अपने मुँह मियाँ मिट्ठू बनना

43

 अपने मुंह मियां मिट्ठू बनना

44

 अपने रंग में रंगना

45

 अफवाह उड़ाना

46

 अफवाह गर्म होना

47

 अब पछताए होत क्या जब चिड़ियाँ चुग गईं खेत

48

 अब-तब करना

49

 अरक निकालना

50

 अरण्य रोदन करना

51

 अरमान ठंडे पड़ना

52

अंतड़ियों में बल पड़ना

53

अंतड़ी टटोलना

54

अंतिम घड़ियां गिनना

55

अंतिम यात्रा (महायात्रा)

56

अंतिम साँस लेना

57

अंधविष्वास कमजोर व्यक्ति का धर्म है

58

अंधा बनना

59

अंधा बनाना

60

अंधी गली के मुहाने पर अंधी सरकार

61

अंधे अंधा ठेलिया दोनों कूप पड़ंत

62

अंधे की लकड़ी या लाठी

63

अंधे के आगे रोए, अपने नैन खोए

64

अंधे के हाथ बटेर लगना

65

अंधे को अंधा राह दिखाए

66

अंधे को आंखें मिलना

67

अंधे को खिलाना फिर घर छोड़कर आना

68

अंधे को सब हरा-ही-हरा दिखई देता है, सावन में अंधेर मचाना

69

अंधेर नगरी चौपट राजा

70

 अंधेर मचाना

71

 अंधों मे काना राजा

72

 अंधों में काना राजा

73

अंबा झोर चलै पुरवाई तब जानौ बरतवा ऋतु आई

74

 अकेला चला भाड़ नहीं फोड़ सकता

75

अक्ल का अंधा

76

अक्ल का आदमी, उलटी

77

अक्ल का दुश्मन

78

अक्ल का दुष्मन (मूर्ख)

79

 अक्ल का पुतला

80

अक्ल काम न करना

81

अक्ल के घोड़े दौड़ाना

82

अक्ल के घोड़े दौड़ाना

83

अक्ल के पीछे लट्ठ लिए फिरना

84

अक्ल के पीछे लट्ठ लिये फिरना

85

अक्ल घास चरने जाना

86

अक्ल चरने जाना (घास)

87

अक्ल ठिकाने न रहना

88

अक्ल ठिकाने लगना

89

अक्ल दंग रह जाना

90

 अक्ल पर पत्थर पड़ना

91

अक्ल पर पत्थर पड़ना

92

अक्ल पर परदा पड़ना

93

अक्ल पर परदा पड़ना

94

अक्ल बड़ी या भैंस

95

अक्ल मारी जाना

96

अक्ल सठियाना

97

अक्लमंद को इषारा काफी

98

अखाड़ें में उतरना

99

अगर-मगर करना

100

अगवा करना

101

अग्र सोची सदा सूखी

102

 अच्छा बोओ अच्छा काटो

103

 अच्छे दिन आना

104

 अच्छे-अच्छे से पाला पड़ना

105

 अच्छों से भी गलती हो जाती है

106

 अटकलपच्चू

107

 अटकल-पच्चू (पच्ची)-अनुमान करना

108

 अट्ट भी मेरी पट्ट भी मेरी

109

 अठखेलियां सूझना

110

 अड़ंगे पर चढ़ाना

111

 अड्डा जमाना

112

 अता-पता नहीं (कुछ)

113

 अता-पता मिलना

114

 अति करना

115

 अति सर्वत्र वर्जयते

116

 अथ और इति

117

 अथ से इति तक

118

 अदा करना, पार्ट

119

 अदा करना, फर्ज

120

 अदा करना, भाुक्रिया

121

 अधजल गगरी छलकत जाय

122

 अधर में पड़ना

123

 अधिकार जताना

124

 अधिकार जमाना

125

 अनंत, हरि, हरिकथा अनंता

126

 अनर्थ होना

127

 अनाप-शनाप बकना

128

 अनाप-षनाप बकना

129

 अन्न-जल उठ जाना (दानापानी उठाना)

130

 अन्न-जल उठना

131

 अन्न-जल छोड़ना

132

 अपना अपना पराया पराया

133

 अपना अपना राग अलापना

134

 अपना अरमान पूरा करना

135

 अपना उल्लू सीधा करना

136

 अपना उल्लू सीधा करना

137

 अपना क्या जाता है

138

 अपना घर समझना

139

 अपना तोसा अपना भरोसा

140

 अपना नीगर पराया टींगर

141

 अपना बोझ आप उठाना

142

 अपना भला-बुरा पहचानना

143

 अपना मकान कोट समान

144

 अपना मुंह देखना

145

 अपना रास्ता नापना या लेना

146

 अपना सिक्का जमाना

147

 अपना सिर ओखली में देना

148

 अपना हाथ जगन्नाथ

149

 अपना-अपना, पराया-पराया

150

 अपना-सा मुँह लेकर रह जाना

151

 अपना-सा मुँह लेकर लौट आना

152

 अँखियाँ सुख, कलेजा ठंडा

153

 अँगूठा दिखाना

154

चार दिन की चाँदनी फिर अँधेरी रात

155

अँधेरे घर का उजाला

156

अँधेरे में तीर चलाना

157

अँधेरे में रखना

158

अँधेरे-मुँह (मुंह)

159

अंक में भरना

160

अंक लगाना

161

 अंकुश देना

162

 अंकुश रखना

163

 अंकुश लगाना

164

अंकुष में रखना

165

अंकुष लगाना

166

अंकुष होना

167

 अंग छूकर कहना

168

 अंग टूटना

169

 अंग फूले न समाना

170

अंग में अंग न समाना

171

अंग लगना

172

अंग-अंग ढीला होना

173

अंगद का पाँव

174

अंगारे उगलना

175

अंगारे बरसाना

176

अंगारों पर पैर रखना

177

 अंगारों पर पैर रखना

178

 अंगारों पर लोटना

179

 अंगारों पर लोटना

180

 अंगुली उठाना

181

 अंगुली पकड़कर पोंचा पकड़ना

182

 अंगूठा चूसना

183

 अंगूठा छाप

184

 अंगूठा दिखाना

185

 अंगूठे पर मारना

186

 अंगूठे पर मारना

187

 अंगूर खट्टे होना

188

 अंगूर खट्टे होना

189

 अंचल पसारना या फैलाना

190

 अंजर-पंजर ढीला होना

191

 अंजर-पंजर ढीले होना

192

 अंजर-पंजर तोड़ना

193

 अंट संट बकना

194

 अंड-बंड बकना

195

 अंडा सेना

196

अंत पाना

197

अंत बिगड़ना

198

अंत भला सो भला

199

अंत होना

200

अंतड़ियों का बल खोलना

201

 अरमान निकालना

202

 अरमान रह जाना

203

 अरमान रह जाना

204

 अर्थ (अरथ) का न होना, किसी अर्थ लोभ अनर्थ की जड़

205

 अर्द्धचन्द्र देना

206

 अलख जगाना

207

 अलग-थलग करना

208

 अलादीन का चिराग

209

 अल्लाह को प्यारा हो जाना

210

 अवसर चूकना

211

 अवसर पर न चूकना

212

 अषरफियाँ लुटें, कोयलों पर मोहर

213

 अषर्फियाँ लुटें और कोयलों पर मुहर

214

 असका पाला अच्छे से पड़ा है

215

 अहमद की पगड़ी महमूद के सिर

 

Post a Comment

0 Comments