Vitamin K Chemical Name and Vitamin Ke Prakar in Hindi
Vitamin K Chemical Name And Vitamin Ke Prakar in Hindi


विटामिन के केमिकल या रासायनिक नाम| Vitamin K Chemical Name in Hindi और विटामिन के प्रकार (vitamin Ke Prakar), विटामिन के स्त्रोत (Vitamin Ke Strot) आज के इस लेख में चर्चा का विषय हैं |

विटामिन के संकेत और रासायनिक नाम

S.N

Vitamin

Chemical Name

1.        

A

 रेटिनॉल

2.        

B

विटामिन बीकॉम्पलेक्स

3.        

C

एस्कॉर्बिक अम्ल 

4.        

D

कैल्सिफेरॉल

5.        

E

टोकोफेरॉल

6.        

B1

थायामिन

7.        

B2

राइबोफ़्लैविन

8.        

B3

निकोटिनैमाइट/नियासिन

9.        

B5

पेण्टोथेनिक अम्ल

10.    

B6

पिरीडांक्सिन

11.    

B7

बायोटिन

12.    

B12

साएनोकाबालामिन

13.    

K

फिलोक्विनोन

 

विटामिन क्या है : Vitamin Kya Hai?  

विटामिन भोजन के घटक है, जो हमें पोषण देते है | सभी को विटामिन की आवश्यकता होती है इनकी कमी होने पर कई प्रकार के रोग हो सकते है | यह हमारे शरीर में निर्मित नही होते है इस कारण इन्हें भोजन के साथ लेना आवश्यक है |

विटामिन के प्रकार : Vitamins Ke Prakar - 

सभी विटामिन्स को उनकी घुलनशीलता के आधार पर दो वर्गों में रखा गया है   (1) जल में घुलनशील विटामिन (2) वसा में घुलनशील विटामिन

विटामिन की कमी से क्या होता है : Vitamin Ki Kami Se Kya Hota Hai -

हमारे शरीर में विटामिन की कमी की कमी होने पर शरीर में रोग उत्पन्न हो जाते है | त्वचा रोग, रतौधी, थकान होना, बेरी-बेरी, जनन शक्ति कम होना, रिकेट्स, बालों का गिरना आदि रोग विटामिन की कमी से शरीर में हो सकते हाजी |

विटामिन के स्त्रोत : Vitamin Ke Strot - 

ताजा हरी सब्जियाँ और फल विटामिनों के मुख्य स्त्रोत है इसके अलावा दूध, अंडा, मछली, मीठ, चिकिन, मशरूम, अंकुरित अनाज, दाल आदि में प्रचुरता से विटामिन पाये जाते हैं |

वसा में घुलनशील विटामिन : Fat soluble vitamins 

विटामिन  A, D, E और विटामिन K वसा में घुलनशील विटामिन्स की श्रेणी में आते हैं |

विटामिन – A या रेटिनॉल

विटामिन-A की कमी से होने वाले रोग – रतौंधी, जीरोप्थैल्मिया, संक्रमणों खतरा 

स्त्रोत – दूध, अण्डा, हरा साग-सब्जी, पनीर, यकृत का तेल

विटामिन – D या कैल्सिफेरॉल

विटामिन-D की कमी से होने वाले रोग बच्चों में रिकेट्स, वयस्कों में ऑस्टिया मलेशिया 

स्त्रोत – दूध, अंडे, यकृत, मछली तेल 

विटामिन – E या टोकोफेरॉल

विटामिन-E की कमी से होने वाले रोग – जनन शक्ति में कमी 

स्त्रोत – दूध, मक्खन, वनस्पति तेल, अंकुरित गेहूँ, पत्तेदार सब्जियाँ

 

विटामिन – K या फिलोक्विनोस

विटामिन-K की कमी से होने वाले रोग – शरीर में रक्त का थक्का ना बनना 

स्त्रोत – टमाटर, हरी सब्जियाँ आदि

 

 

जल में घुलनशील विटामिन्स : Water Soluble Vitamins 

विटामिन B समूह और विटामिन C जल में घुलनशील विटामिन की श्रेणी में आते हैं |

विटामिन – B1  या थायमिन

विटामिन-B1  कमी से होने वाले रोग – बेरी-बेरी 

विटामिन-B1 के स्त्रोत –  तिल, मूँगफली, सूखी मिर्च, अंडा, यकृत, सब्जियाँबिना धुली दालें  

विटामिन – B2 या राइबोलोविन

विटामिन-B2 कमी से होने वाले रोग  त्वचा का फटना, जीभ का फटना, आँखों का लाल होना 

विटामिन-B2 के स्त्रोत – दूध, हरी सब्जियाँ, माँस, खमीर, कलेजी

विटामिन – B3 या पैन्टोथेनिक

विटामिन-B3 कमी से होने वाले रोग – मंद बुद्धि होना, बाल सफ़ेद होना 

विटामिन-B3 के स्त्रोत दूध, माँस, मूँगफली, गन्ना, टमाटर

विटामिन – B5  या निकोटिनैमाइट/नियासिन

विटामिन-B5 कमी से होने वाले रोग – पेलाग्रा ( त्वचा दाद ) या 4-D – सिंड्रोम 

विटामिन-B5 के स्त्रोत आलू, टमाटर, पत्तेदार सब्जियाँ, मूँगफली

विटामिन – B6 या पायरीडॉक्सीन

विटामिन-B6 कमी से होने वाले रोग – एनीमिया, त्वचा रोग 

विटामिन-B6 के स्त्रोत  माँस, यकृत, अनाज 

विटामिन – B7 या बायोटीन

विटामिन-B7 कमी से होने वाले रोग  बालों का गिरना, शरीर में दर्द, लकवा 

विटामिन-B7 के स्त्रोत – माँस, अंडा, यकृत, दूध

विटामिन – B12 या साएनोकाबालामिन

विटामिन-B12 कमी से होने वाले रोग – एनीमिया, पांडुरोग 

विटामिन-B12 के स्त्रोत- माँस, कलेजी, दूध